सबसे जहरीली गैस कौन सी है (sabse jahrili gas kaun si hai)

सबसे जहरीली गैस कौन सी है: क्या आपको पता है कुछ ऐसी जहरीली गैस है जिसके कुछ मात्रा से इंसानों का पृथ्वी से नामों निशान तक मिट सकता है आईये जानते हैं कुछ ऐसे खतरनाक जहर और गैस के बारे में इस पोस्ट में, हो सकता है ये जानकारी आपके भविष्य में काम आये इसलिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।  

सबसे जहरीली गैस कौन सी है

sabse jahrili gas kaun si hai | सबसे जहरीली गैस कौन सी है

आज की तारीख में हमारी कई तरह तकलीफों और दर्द से छुटकारा दिलाने के लिए कई तरह की दवाईयां मौजूद हैं जो ज़िन्दगी को आसान बनती हैं लेकिन क्या आप जानते हैं इनमें से कई दवाईयां बेहद खतरनाक जहरों से बनायीं जाती हैं। 

जहरीली गैसें निम्न प्रकार हैं –  

बोटॉक्स (Botox) 

अपने चेहरों पर जिनके इंजेक्शन लगाने के लिए बहुत से लोग भारी मात्र में पैसा खर्च करते हैं वो दरअसल Botulinum Toxin है। ये आज तक का मिला सबसे ज्यादा जहरीला पदार्थ है।

इसके कुछ चम्मच ब्रिटेन में मौजूद हर व्यक्ति को मारने के लिए काफी है, सिर्फ कुछ किलो से धरती पर इंसानों की समूची आबादी को ख़त्म कर सकता है।

Botulinum Toxin इतना खतरनाक है कि इसे अब भी आर्मी के नियंत्रण में ही बनाया जाता है। इसकी कीमत 100 trillion pound यानि करीब  9900 trillion रूपए प्रति किलो के साथ ये आज तक का बना सबसे महँगा उत्पाद है, लेकिन फिर भी बोटॉक्स की मांग कम नहीं है।

जहर LD-50 पैमाने में जिसके पदार्थ की वो मात्रा देखी जाती है जिसमें किसी व्यक्ति की मौत हो सकती है। बोटॉक्स का 0.00001 मिली ग्राम इसका मतलब ये है कि 70 किलो के आदमी को मारने के लिए आपको सिर्फ 0.00007 मिली ग्राम की जरूरत पड़ेगी।

सरीन (Sarin)

ये एक नर्म एजेंट कहे जाने वाले पदार्थ में से एक है। यह साफ़ रंगीन और स्वादहीन तरल पदार्थ होता है, जो बहुत जल्दी वाष्प में बदल जाता है।

नर्म एजेंट बहुत ही खतरनाक पदार्थ होते हैं ये Cynide से 100 गुना अधिक खतरनाक जहर होते हैं। इसकी सूई की नोक के बराबर की मात्रा किसी भी इन्सान के लिए घातक हो सकती है।

आमतौर पर इसके वाष्प के संपर्क में आने के 15 मिनट के अन्दर ही व्यक्ति की मौत हो जाती है।

ये जहर तरल रूप में त्वचा के संपर्क में आने से और भी ज्यादा घातक हो जाता है।   

टेट्रोडोटॉक्सिन (Tetrodotoxin)

टेट्रोडोटॉक्सिन नाम का ये जहर पफर फिश नाम की मछली में पाया जाता है। ये जहर इतना घातक है कि जापान में जानवरों द्वारा हर पांच मे से एक व्यक्ति की मौत के लिए टेट्रोडोटॉक्सिन ही जिम्मेदार है।

दरअसल ये जहर पफर फिश नाम की मछली के लीवर में पाया जाता है, तो जब इस मछली को गलत तरीके से पका कर खाया जाता है तब ये जहर इंसानों में चली जाती है। इसकी 25 मिली ग्राम एक 75 kg के इन्सान को मारने के लिए काफी है।

इस जहर को सबसे ज्यादा खतरनाक इसका एंटीडोट का नहीं होना बनाता है।      

Conclusion 

उम्मीद करते हैं इस पोस्ट के जरिये से आपको सबसे खतरनाक (जहरीली) गैस कौन सी है के बारे में पता चल गया होगा अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो कमेंट में जरूर बताएं और इसे शेयर करना न भूलें।  

यह भी पढ़ें :

Check Also

Mausam Kya Hai, Mausam Kise Kahate Hain – पूरी जानकारी

Mausam Kya Hai in Hindi: आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे कि मौसम क्या है? …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *